छोटी काशी में शिवरात्रि पर बम-बम भोले

छोटी काशी में शिवरात्रि पर बम-बम भोले

फर्रुखाबाद। महाशिवरात्रि पर मंदिर-मंदिर हर-हर बम-बम से गूंज उठा। प्रमुख मंदिरों में सुबह चार बजे से ही लोगों ने कतारबद्ध होकर अपने आराध्य भगवान भोलेनाथ का दर्शन किया। उनको जल और दुग्ध से अभिषेक करके बेलपत्र, धतूरा, बेर, भांग, मिष्ठान और पुष्प अर्पित किये। हर बड़े छोटे मंदिर में पूजन-अर्चन और दर्शन का माहौल रहा। शिवरात्रि कत्योहार पर समुचित सुरक्षा,पुलिस व्यवस्था और सौहार्द बनाये रखने पर जोर है। जनपद के शिवालयों की भरपूर सुरक्षा बंदोबस्त हैं। शहर के पाण्डेश्वर नाथ मंदिर में तो भीड़ देखने लायक थी। बड़े वाहन को रेलवे रोड पर प्रवेश पर रो लगा दी गयी। इसके अलावा घुमना कोतवाली के पीछे कोतवालेश्वेर मंदिर, तामेश्वर मंदिर, रामेश्वर मंदिर कम्पिल, मनकामेश्वर मंदिर, मोटेमहादेव मंदिर ,द्वादस ज्योतिर्लिंग कोटपार्चा व पण्डाबाग में श्रधालुओ की भीड़ देर रात से ही आना शुरू हो गयी। इन सब मंदिरो में विशेष सुरक्षा के प्रबंध और पूजन-अर्चन के खास इंतजाम किया गया हैं। वही सेन्ट्रल जेल रखा रोड पाल नगला में बने शिव शक्ति महाकाल मंदिर में जमकर भीड़ उमड़ी। जनपद में शिव मंदिरो की संख्या अधिक होने से इसे छोटी काशी कहा जाता है। भगवान शिव की पौराणिक कथाओ में से कई जनपद के मंदिरो से भी ताल्लुक रखती है। कहावत है की महाभारत काल में पांडवो ने अज्ञात वास के समय पाण्डेश्वर मंदिर की स्थापना की थी। जिससे आज भी मंदिर लोगो के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। मंगलवार को महाशिव रात्रि के अवसर पर शिवालयों में हर-हर बम-बम के स्वर पूरे शहर में सुनाई दिये। लोगो ने शिव मंदर के दर्शन कर पुण्य लाभ कमाया। भगवान को बेलपत्र, धतूरा, बेर,भांग आदि अर्पित कर व्रत पूर्ण किया।
 

संबंधित ख़बरें