के.टी. थॉमस : भारतीयों की रक्षा करता है संघ

 के.टी. थॉमस : भारतीयों की रक्षा करता है संघ

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस के.टी. थॉमस आरएसएस को भारतीयों की रक्षक करार दिया है। रविवार को कोट्टायम (केरल) में आरएसएस के एक कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कही। उन्होंने स्वयंसेवकों को शारीरिक प्रक्षिक्षण दिए जाने के लिए संगठन की तारीफ करते हुए कहा कि संविधान, आर्मी, लोकतंत्र के बाद अगर कोई भारतीयों की रक्षा करता है तो वह है संघ है।  थॉमस ने कहा कि संघ अपने स्‍वयंसेवकों में ज्ज्राष्‍ट्र की रक्षा करने हेतु अनुशासन भरता है। उन्‍होंने कहा, सांपों में विष हमले का सामना करने के लिए हथियार के तौर पर होता है। इसी तरह, मानव की शक्ति किसी पर हमला करने के लिए नहीं बनी है। शारीरिक शक्ति का मतलब हमलों से (खुद को) बचाने के लिए है, ऐसा बताने और विश्‍वास करने के लिए मैं आरएसएस की तारीफ करता हूं। मैं समझता हूं कि आरएसएस का शारीरिक प्रशिक्षण किसी हमले के समय देश और समाज की रक्षा के लिए है। आपको बतां दे कि कि केटी थॉमस का लंबे समय से आरएसएस के प्रति झुकाव रहा है। वे उस कैंपेन को खत्म करने की अपील भी कर चुके हैं, जिसमें महात्मा गांधी की हत्या के लिए आरएसएस को जिम्मेदार ठहराए जाने की बात कही जाती रही है।
 

संबंधित ख़बरें