विधानसभा की सुरक्षा के लिए योगी ने सुझाए ये 11 उपाय, देखिये....

 विधानसभा की सुरक्षा के लिए योगी ने सुझाए ये 11 उपाय, देखिये....

यूपी विधानसभा में खतरनाक PETN विस्फोट मिलने के मामले को सीएम योगी आदित्यनाथ ने गंभीर मुद्दा बताते हुए सदन की सुरक्षा के लिए कई उपाय सुझाए. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विधानसभा की सुरक्षा के लिए हम सब को सतर्क रहना होगा और तमाम कदम उठाने होंगे. सीएम योगी ने विधानसभा की सुरक्षा अभेद्य करने के लिए 11 उपाय सुझाए.
1. विधानसभा में बिना पास के वाहनों की एंट्री बंद हो
2. सदस्यों के लिए कर्मचारियों के लिए सबके लिए एंट्री पास का नियम लागू हो, जो आ रहा है उसकी पहचान होनी चाहिए
3. कर्मचारियों के लिए एक ड्रेस हो जिससे पहचान हो सके, जिम्मेदार लोगों की ही तैनाती हो विधानसभा में
4. अनावश्यक भीड़-भाड़ को कम किया जाएगा
5. विधानसभा की सुरक्षा के लिए एक गाइडलाइंस हो, जिसका पालन सभी सदस्य और कर्मचारी करें
6. हर कर्मचारी की पुलिस जांच हो एंट्री पर
7. सबकी जांच हो, विधायक करें सहयोग
8. विधानसभा में तैनात हर कर्मचारी का पुलिस वेरिफिकेशन हो
9. विधायकगण फोन लेकर अंदर न आएं और अगर फोन लेकर आते हैं तो फोन स्विच ऑफ कर दें
10. बाहर कोई ऐसा सिस्टम बना दें जहां बैग और फोन रखने की व्यवस्था करें
11. विधानसभा और विधान परिषद की सुरक्षा के लिए त्रिस्तरीय व्यवस्था है, उसमें सामंजस्य बढ़ाए जाने के उपाय किए जाने की जरूरत है
गौरतलब है कि यूपी विधानसभा में चेकिंग के दौरान खतरनाक PETN विस्फोटक मिलने से चारों और सनसनी फैल गई है. इसे प्लास्टिक विस्फोटक के नाम से जाना जाता है. यह दुनिया के पांच सबसे खतरनाक विस्फोटकों में माना जाता है. Penta era thritol tetranitrate इसका पूरा नाम है. यह पाउडर हाई इंटेंसिटी एक्सप्लोसिव है जो 12 जुलाई की शाम जो विधानसभा के भीतर मिला. विधानसभा परिसर तक ये कैसे पहुंचा ये अलग जांच का विषय है लेकिन हम आपको बताते हैं कि कितना खतरनाक है ये विस्फोटक.
PETN विस्फोटक का इस्तेमाल 7 सितंबर 2011 को दिल्ली उच्च न्यायालय के बाहर हुए धमाके में किया गया था. इस धमाके में 11 लोगों की मृत्यु हुई थी और कम-से-कम 50 लोग घायल हुए थे.
बड़े आतंकी संगठन करते हैं इस्तेमाल
PETN विस्फोटक काफी खतरनाक माना जाता है. एक्सपर्ट मानते हैं कि सुरक्षा एजेंसियों के पास इससे हमले की स्थिति में निपटना काफी मुश्किल है. एक्सपर्ट बताते हैं कि इसका इस्तेमाल आंतकी संगठन बड़े हमलों के लिए करते हैं. हाल के दिनों में यूपी में आतंकी हमलों की साजिश का अलर्ट कई बार जारी हो चुका है. विधानसभा परिसर में इस विस्फोटक के मिलने से बड़े खतरे का खुलासा हुआ है.

संबंधित ख़बरें