जातिवाद व भाषा के गिरे स्तर के कारण गुजरात में हमारी सीटें कम हुई

जातिवाद व भाषा के गिरे स्तर के कारण गुजरात में हमारी सीटें कम हुई

नई दिल्ली: गुजरात और हिमाचल में भाजपा को मिली जीत के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि यह भाजपा के लिए आनंद का दिन है, हिमाचल और गुजरात में भाजपा सरकार बना रही है. हम एक बार फिर विजयी हुए हैं. गुजरात और हिमाचल की जनता को धन्यवाद. यह जीत कार्यकर्ताओं की है, प्रधानमंत्री के नीतियों की जीत है. यह जीत वंशवाद, जातिवाद के तुष्टिकरण पर विकासवाद की जीत है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब से पद पर बैठे हैं तब से वंशवाद और तुष्टिकरण को मुक्त करने का प्रयास कर रहे थे. यूपी के बाद अब गुजरात ने यह साबित कर दिया है जो विकास करेगा वही जीतेगा. मैं यह मानता हूं कि मोदी के नेतृत्व में आजादी के 70 साल बाद लोकतंत्र करवट बदल रहा है. अमित शाह ने कहा कि इसका पूरा श्रेय जनता को जाता है. गुजरात में हम छठी बार जीते हैं. हमारा वोट प्रतिशत 2012 के मुकाबले बढ़ा है. 2012 47.85 फीसद वोट मिले हैं और अभी 49.10 फीसद वोट मिला है. इसका साफ अर्थ है कि जातिवादी प्रचार के बाद भी हमारे वोट में वृद्धि हुई है. गुजरात के चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने जिस तरह राज्य को जातिवाद की तरफ ले जाने की कोशिश की, उसे गुजरात की जनता ने विफल कर दिया. कई विरोधी नेता हारे हैं. हर चुनाव प्रचार के बाद भाषा का स्तर गिरा है. उन्होंने भाजपा की कम सीट आने के मीडिया के एक सवाल पर कहा कि ऐसा जातिवाद के आधार पर चुनाव लड़ने एवं प्रचार का स्तर गिराने के कारण हुआ. 
अमित शाह ने हिमाचल प्रदेश की जीत पर कहा, हम बहत बड़े अंतर से जीते हैं. इस बार 10 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है. मोदी के साथ जनता का विश्वास बढ़ा है. हिमाचल भी मोदी की विकास यात्रा में जुड़ना चाहता है. हमारी दो तिहाई बहुमत से सरकार बनी है. केंद्र में भाजपा की सरकार बनने के बाद भाजपा ने अपने जनाधार को बढ़ाया है. 2014 की स्थिति से अब हम बेहतर हैं. इस वक्त हमारी 14 राज्यों में सरकारें हैं और 5 ऐसी है जिसमें हम हिस्सेदार हैं. मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र में जो सरकार बनी है उसमें हमारा ध्यान गरीब और आम लोगों पर है. आने वाले दिनों में त्रिपुरा, मेघायल, मिजोरम और कर्नाटक में चुनाव है. इन चारों राज्य में हम सरकार बनायेंगे हमें पूरा भरोसा है. 2019 में जब हम चुनाव लड़ेंगे पूरे देश का समर्थन हमारे साथ होगा. 
 

संबंधित ख़बरें