पंजाब : 136 हिंदू नेता आतंकियों के निशाने पर

पंजाब : 136 हिंदू नेता आतंकियों के निशाने पर

मोगाः पाकिस्तान की खुफिया एजैंसी आई.एस.आई खालिस्तान लिबरेशन फोर्स के जरिये फिर से पंजाब में आतंकी वारदातों को अंजाम देने की फिराक में है। के.एल.एफ. की फ्रंट लाईन के पुलिस में गिरफ्त में आ जाने के बाद अब सैकेंड लाईन को तैयार किया गया है। खुफिया एजैंसियों की रिपोर्ट के अनुसार पंजाब के 136 हिंदू नेता आतंकियों की सैकेंड लाईन के निशाने पर रहेंगे। पंजाब पुलिस ने इस इनपुट पर काम शुरू कर दिया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार हिंदू नेताओं की हत्याओं को लेकर खुफिया तंत्र की बताई जानकारी और गैंगस्टर्स से मिली जानकारी सही रही है। खुफिया तंत्र ने पहले भी आगाह किया था कि के.एल.एफ. पंजाब में अब गैंगस्टर्स का प्रयोग करेगा और वही हुआ। के.एल.एफ. की ओर से तैयार की गई सैकेंड लाईन पंजाब में बड़े हिंदू नेताओं की जगह दूसरी व तीसरी श्रेणी के हिंदू नेताओं को निशाना बना सकती है। इस श्रेणी में पंजाब में करीब 136 हिंदू नेता हैं। पुलिस ने गोपनीय तरीके से इन नेताओं की सूची भी तैयार कर ली है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस सूची को बेहद गोपनीय रखा गया है। सूची में दर्ज सभी सभी हिंदू नेताओं को सुरक्षा प्रदान करना मुश्किल है। फिलहाल उनकी सुरक्षा की समीक्षा की जाएगी। जिन्हें खतरा है उन नेताओं को जानकारी दी गई है। के.एल.एफ. चीफ हरिमंदर सिंह मिंटू ने आर.एस.एस. के राष्ट्रीय सिख संगठन अध्यक्ष रुलदा सिंह की हत्या के लिए इंग्लैंड से शार्प शूटर मंगवाया था, उसी तर्ज पर एक बार फिर विदेश से शार्प शूटर मंगवाए जा सकते हैं। केंद्रीय सुरक्षा एजैंसियां भी जेल में बंद हरिमंदर से उसकी अगली योजना उगलवाने में जुटी हुई हैं।
 

संबंधित ख़बरें