प्रदेश में काफी परंपरागत उद्योग उपेक्षित थे: CM योगी

प्रदेश में काफी परंपरागत उद्योग उपेक्षित थे: CM योगी

आजमगढ़। सपा सरंक्षक मुलायम सिंह यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चीनी मिल में बड़ा लोकार्पण किया। यहां की सठियांव चीनी मिल में एक डिस्टलरी का लोकार्पण करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार यहां के परम्परागत उद्योग को पुनर्जीवित कर रही है। सठियांव चीनी मिल प्रांगण में डिस्टलरी का लोकार्पण करने के बाद उन्होंने जनसभा को संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में काफी परंपरागत उद्योग उपेक्षित थे। हमारी सरकार इनको पुनर्जीवित कर रही है। पुनर्जीवित करने के बाद सरकार इनको फिर से पुराना स्वरूप प्रदान भी करेगी। सरकार अब इनके उठान के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की स्थिति दयनीय है। हमने तो 56 करोड़ देकर डिस्टलरी चालू किया है। उन्होंने कहा कि कहा कि आज आजमगढ़ की पहचान बनानी चाहिए। आजमगढ़ के नाम पर कुछ लोगों ने कलंक लगाने का काम किया। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि गन्ना उद्योग में बडा अवसर मिल सकता है। इसके उत्थान के लिये हम सन्कल्पित है। उन्होंने कहा कि चीनी उद्योग से बडी बेरोजगारी दूर हो सकती है। मोदी जी भारत में गरीबी न हो ,न जातिवाद हो, भ्रष्टाचार न हो, श्रेष्ठ भारत पर जोर देते है। सरकार ने सालों के पुराने बकाये का भुगतान किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार सबका साथ सबका विकास चाहती है। इसी नारे के साथ सरकार आगे बढ़ रही है। सरकार किसी प्रकार का द्वेषपूर्ण कार्य नहीं कर रही है। समाज के आखिरी पायदान पर खड़े व्यक्ति तक विकास पहुँचाना ही सरकार का लक्ष्य है। 11 लाख परिवार को आवास उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार किसानों को अपमानित करती थी। 37 लाख गरीबो को राशन कार्ड उपलब्ध कराया है। तीस लाख मीट्रिक टन धान क्रय किया जा चुका है। कोई गरीब भूखा न रहे, सरकार की कोशिश है। इस अवसर पर वन मंत्री दारा चैहान ने कहा कि हम लोग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सुनने आये है। प्रदेश के मुख्यमंत्री ने डिस्टलरी का लोकार्पण किया है। यह काम विदेश में पैसा रोकने में बड़ा महत्तवपूर्ण कदम हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने सबसे पहले किसानों को 36 करोड़ का ऋण माफ किया। इतना बड़ा कर्ज माफ करने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला प्रदेश बन गया है। गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा ने कहा कि सरकार ने नौजवानों के लिए बड़ा काम किया है। पूर्वांचल की धरती को पहले चीनी का कटोरा कहा जाता है। सरकार फिर इस धरती को वही मुकाम दिलाने की ओर है। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार बड़ा काम करेगी। इससे पहले तो इस प्रदेश को जमकर लूटा गया है। राज्यमंत्री उपेन्द्र तिवारी ने कहा कि आज हमको कर्मयोगी के रूप में योगी आदित्यनाथ जैसे मुख्यमंत्री मिले हैं। आजादी के 70 साल बाद 86 लाख किसानों के गन्ना ऋण को माफ किया है। सरकार का संकल्प है कि किसानों की आए दुगुना किया जाएगा। समय कम पड़ सकता है लेकिन योजना कम नहीं पड़ेगी।
 

संबंधित ख़बरें