मियाद तय: अब छह माह में ही बनाना होगा चौकाघाट फ्लाईओवर

मियाद तय: अब छह माह में ही बनाना होगा चौकाघाट फ्लाईओवर

कैंट रेलवे स्टेशन से लगायत अंधरापुल पर रोजाना लगने वाले जाम से निजात के लिए प्रशासन ने चौकाघाट फ्लाईओवर निर्माण की मियाद छह महीने तय कर दी है। कमिश्नर ने सेतु निगम के अफसरों से दो टूक कहा है कि सरकार ने पुल निर्माण के लिए शेष धनराशि जारी कर दी है। अब कोई बहाना नहीं चलेगा। तीन शिफ्ट में काम कराएं। जून 2018 तक हर हाल में काम पूरा होना चाहिए। 
कमिश्नर ने बताया कि सरकार ने धन जारी करने के बाद फ्लाईओवर निर्माण की तय अवधि कम करते हुए दिसम्बर 2018 के बजाए जून 2018 तय कर दी है। उन्होंने निर्देश दिया फ्लाईओवर निर्माण के दौरान दोनों ओर का रास्ता ठीक होना चाहिए। जिससे वाहनों के आवागमन में दिक्कत नहीं हो। उन्होंने लखनऊ मेट्रो के अलावा दिल्ली समेत अन्य शहरों में फ्लाईओवर या अन्य निर्माण कार्य का उदाहरण दिया और कहा कि ऐसी व्यवस्था करें कि निर्माण कार्य भी होता रहे और वाहनों के आवागमन में भी सहूलियत हो। 
कमिश्नर के मुताबिक फ्लाईओवर की कुल लागत 77. 41 करोड़ है। जिसे शासन ने अवमुक्त कर दिया है। सेतु निगम अभी तक धन नहीं होने का बहाना बना रहा था। फ्लाईओवर की वर्तमान स्थिति यह है कि 130 कंक्रीट पाइल्स एवं 33 कैंपस फाउंडेशन का काम अभी होना है। जबकि 77.41 करोड़ के सापेक्ष 35.5 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। शेष्ज्ञ आधी धनराशि सरकार की ओर से अवमुक्त किए जाने के बाद अब काम में तेजी आने की उम्मीद है। कमिश्नर ने बताया कि पहले फ्लाईओवर के निर्माण की मियाद दिसम्बर 2018 थी मगर इसमें कटौती करते हुए अब जून 2018 तक निर्माण कार्य हर हाल में पूरा करना होगा। कहा कि वाहनों के आवागमन से निर्माण कार्य में अड़चन आती है तो उसके लिए अलग से प्लान तैयार किया जाएगा लेकिन हर हाल में समय से कार्य पूरा कराने का निर्देश शासन से मिला है।