मोदी को लेकर इंस्पेक्टर ने व्हाट्सअप में डाला आपत्तिजनक मैसेज...

मोदी को लेकर इंस्पेक्टर ने व्हाट्सअप में डाला आपत्तिजनक मैसेज...

भागलपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ जदयू के व्यावसायिक प्रकोष्ठ के व्हाट्सअप ग्रुप पर फोटो व मैसेज डालना खगड़िया के इंस्पेक्टर को महंगा पड़ा. शिकायत होने के बाद डीआइजी मुंगेर व भागलपुर प्रक्षेत्र विकास वैभव ने 108 घंटे में उक्त मामले की जांच कराने के बाद दोषी इंस्पेक्टर खगड़िया मो इस्लाम अंसारी को सस्पेंड कर दिया गया. साथ ही डीआइजी ने एसपी खगड़िया को निर्देश दिया कि सस्पेंडेड इंस्पेक्टर के खिलाफ बिहार सरकारी सेवक (वर्गीकरण, नियंत्रण नियमावली 2006) के तहत विहित प्रपत्र क में आरोप प्रारूप गठित कर उनके अवलोकन के लिए भेजा जाये. आलोक कुमार विद्यार्थी द्वारा की गयी शिकायत के बाबत एसपी खगड़िया ने बताया कि शिकायत की जांच एसडीपीओ खगड़िया सदर ने जांच किया. जांच रिपोर्ट में बताया गया कि पांच जनवरी 2018 को सुबह करीब 8.32 बजे जदयू उद्योग प्रकोष्ठ के व्हाट्सअप ग्रुप पर पुलिस निरीक्षक मो इस्लाम अंसारी द्वारा उनके मोबाइल नंबर 9939815000 से एक आपत्तिजनक फोटो एवं मैसेज पोस्ट किया गया. उक्त फोटो में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर न केवल आपत्तिजनक फोटो पोस्ट किया गया था बल्कि उनके बारे में आपत्तिजनक टेक्स्ट मैसेज भी किया गया था. जांच में पाया गया कि उक्त नंबर इंस्पेक्टर मो इस्लाम अंसारी का ही है. सफाई में इंस्पेक्टर श्री अंसारी ने कहा कि उनके पोते का उनके मोबाइल पर हाथ दब जाने के कारण उक्त व्हाट्सअप मैसेज वायरल हो जाने की बात कही. ऐसे में इंस्पेक्टर खगड़िया द्वारा सरकारी सेवा में रहते हुए भारत के प्रधानमंत्री के प्रति आपत्तिजनक टिप्पणी किया जाना इनके स्वेच्छाचारिता, घोर लापरवाही एवं अनुशासनहीनता को दर्शाता है. एसपी खगड़िया द्वारा जारी जांच रिपोर्ट के आधार पर डीआइजी विकास वैभव ने मंगलवार की देर रात में इंस्पेक्टर खगड़िया मो इस्लाम अंसारी को सस्पेंड कर उसके खिलाफ विभागीय कार्यवाही शुरू करने का आदेश जारी कर दिया. साथ ही आदेश दिया कि जब तक वह सस्पेंड रहेगा तब तक उसे पुलिस केंद्र खगड़िया से अटैच रहेगा. 
 

संबंधित ख़बरें