शिवरात्रि 2018: भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए करें ये शास्त्रीय उपाय

शिवरात्रि 2018: भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए करें ये शास्त्रीय उपाय

शिवरात्रि भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए सर्वोत्तम दिन माना जाता है। भगवान शिव ही एकमात्र ऐसे देव हैं जो भक्तों की थोड़ी सी भक्ति पर प्रसन्न हो जाते हैं। महाशिवरात्रि के दिन ही भगवान शिव का विवाह माता पार्वती के साथ हुआ था।पुराणों के अनुसार महाशिवरात्रि फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी को होती है। इस बार महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त 13 फरवरी (मंगलवार) की रात 10 बजकर 22 मिनट से प्रारंभ होकर अगले दिन यानि 14 फरवरी (बुधवार) की रात्रि 12 बजकर 17 मिनट तक रहेगी।शिवरात्रि पर इस बार कुछ शास्त्रीय उपायों को करने से जीवन की सभी परेशानियों का हल हो सकता है। शिव भक्तों को इस दिन शिव को प्रिय इन उपायों को अवश्य करना चाहिए।
शादी के लिए
भोलेनथ इतने भोले हैं कि वे अपने भक्तों पर बहुत जल्द प्रसन्न हो जाते हैं। यदि शादी में अड़चन आ रही है तो शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर केसर मिश्रित कच्चे दूध का अर्पण करना चाहिए।
धन लाभ के लिए
धन लाभ के लिए शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर गन्ने का रस चढ़ाना चाहिए। साथ ही भांग के 11 पत्ते शिवलिंग पर अर्पित करना चाहिए। 
मनवांछित फल की प्राप्ति के लिए
मनवांछित फल की प्राप्ति के लिए शिवरात्रि के दिन 11 बेलपत्र पर चंदन से 'ॐ नमः शिवाय' लिखकर अर्पित करना चाहिए।
सुख-समृद्धि के लिए
शिवरात्रि के दिन भोलेनाथ सहित शिव के सवारी बैल पर बेलपत्र का अर्पण करना चाहिए। साथ ही कच्चे दूध में केसर मिलाकर शिवलिंग पर अर्पित करना चाहिए।
संतान प्राप्ति के लिए
शिवरात्रि के दिन गंगाजल में काले तिल मिलाकर शिवलिंग पर अर्पित कर 'ॐ नमः शिवाय' का जाप करना चाहिए।
आमदनी बढ़ाने के लिए
शिवरात्रि के दिन किसी योग्य ब्राह्मण के बनवाकर नियमित पूजा करें। ऐसा करने से आपकी आमदनी बेहतर होगी।
 

संबंधित ख़बरें