सपा सुप्रीमो अखिलेश लेंगे नवनिर्वाचित पार्षदों की क्लास

सपा सुप्रीमो अखिलेश लेंगे नवनिर्वाचित पार्षदों की क्लास

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के निकाय चुनाव में समाजवादी पार्टी को बहुत बड़ी हार का सामना करना पड़ा है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस हार की समीक्षा करना शुरू कर दिया है। इसी क्रम में अब सपा अध्यक्ष अखिलेश सीएम योगी जैसा काम करने जा रही हैं। इतना ही नहीं अखिलेश ने फिरोजाबाद में जिलाध्यक्ष पद पर नई तैनाती भी कर दी है। नगर निकाय चुनाव में जीतने वाले सभी सपा प्रत्याशी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात करेंगे। जीते हुए सभी प्रत्याशियों को 16 दिसंबर को लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय पर बुलाया गया है। इस बैठक में सपा अध्यक्ष अखिलेश सभी पार्षदों को संबोधित करेंगे और उन्हें आगे के लिए जरूरी बातें बतायेंगे। इस बैठक में अखिलेश यादव जीते हुए सभी पार्षदों और नगर पंचायत और नगर पालिका अध्यक्ष से मुलाकात करेंगे। बरेली के सपा जिलाध्यक्ष ने बताया कि यहीं पर सपा के सबसे अधिक 80 में 28 पार्षदों ने जीत का परचम लहराया है। ऐसे ही रामपुर के बाद नगर पंचायत अध्यक्ष चुनाव में भी सबसे ज्यादा हमारे जिले से प्रत्याशी जीते हैं। इन सभी जीते हुए प्रत्याशियों की लखनऊ में 16 दिसंबर को राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात होने वाली है। इसके पहले यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी भाजपा के जीते हुए सभी मेयरों को बुलाकर उनसे मुलाकात की थी। साथ ही लखनऊ में जीते हुए सभी मेयरों, नगर पालिका और पंचायत अध्यक्षों के लिए कार्यशाला का आयोजन हुआ था। इस कार्यशाला को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने सभी अध्यक्षों को जनता की सेवा करने संबंधी जरूरी सुझाव दिए थे। अखिलेश यादव ने फिरोजाबाद में सुमनदेवी को नया जिलाध्यक्ष बनाया है। साथ ही महानगर अध्यक्ष पद पर शमशाद बाबा की नियुक्ति कर दी गयी है। 2019 चुनाव के मद्देनजर सपा संगठन में बड़ा बदलाव करते हुए आगे की तैयारी की है। फिरोजाबाद में पिछड़ी जाति की महिला को सपा अध्यक्ष की कमान देने के पीछे अखिलेश की खास रणनीति है। साथ ही अन्य पदों पर नियुक्ति में सपा ने जातीय समीकरण का खास ध्यान रखा हुआ है। निकाय चुनाव में सपा को हार मिलने के बाद जिलाध्यक्ष रामसेवक यादव ने इस्तीफा दे दिया था। साथ ही गैर-यादव को सपा का नया जिलाध्यक्ष बनाने की मांग की थी। इसके अलावा अजीम भाई के सपा से निकाले जाने के बाद सपा ने शमशाद बाबा को उनका विकल्प बनाया है।
 

संबंधित ख़बरें