क्रिकेट

  • IND VS SA: सबसे तेज पिच टीम इंडिया के स्वागत का कर रही इंतजार

    नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीकी धरती पर बतौर कप्तान अपने पहले ही इम्तिहान में फेल होने के बाद विराट कोहली और टीम इंडिया आत्मचिंतन कर रहे हैं, लेकिन 24 जनवरी से वॉन्डर्स में दौरे की सबसे तेज पिच टीम इंडिया के स्वागत का इंतजार कर रही है. मतलब यह है कि क्लीन स्वीप से बचना है तो जल्दी ही कुछ सोचना होगा. वैसे चयनकर्ताओं ने नेट्स में बल्लेबाजों की मदद के लिए  दिल्ली के नवदीप सैनी और मुंबई के शार्दुल ठाकुर को जोहांससबर्ग भेजा है. यहां घरेलू टीम का रिकॉर्ड अपनी ज़मीं पर सबसे खराब रहा है. 1956 से अब तक कुल 37 मैच खेले गए हैं. मेजबान टीम ने इनमें से 15 मैच जीते और 11 हारे हैं. बाकी 11 मैच ड्रॉ छूटे. भारत ने यहां साल 2006 में जीत दर्ज की थी. यानी पिच जितनी तेज होगी, उतना ही मौका विपक्षी टीम के पास होगा. यही वजह है कि सीरीज में बड़ा अंतर साबित हुए एबी डिविलियर्स भी भा

  • टीम इंडिया ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराकर लगाई जीत की हैट्रिक

    तौरंगा: आईसीसी अंडर-19 विश्व कप में ग्रुप लीग के आखिरी मैच में भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराकर जीत की हैट्रिक लगा दी। इस जीत के साथ ही भारत ने ग्रुप लीग का सफर अंक तालिका में सबसे ऊपर रहकर खत्म किया है। इस मैच में शुभमन गिल और हार्विक देसाई को ओपन करने का मौका दिया गया। गिल और देसाई ने अपने कप्तान पृथ्वी शॉ के फैसले को सही साबित किया और टीम ने आसानी से 155 रनों के लक्ष्य का पीछा कर लिया। अनुकूल की घातक बोलिंग इससे पहले अनुकूल रॉय की घातक गेंदबाजी की बदौलत भारत ने जिम्बाब्वे को 154 रन पर ही समेट दिया। पापुआ न्यी गिनी के खिलाफ मैच में 14 रन देकर 5 विकेट झटकने वाले रॉय ने जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच में भी अपना कमाल जारी रखा और 7.1 ओवर में 20 रन देकर 4 विकेट झटके। भारतीय गेंदबाजों के आगे ऑस्ट्रेलिया और पीएनजी की तरह जिम्बाब्वे क

  • न्यूजीलैंड ने पाक को हराकर 5 मैचों की सीरीज में किया क्लीन स्वीप

    वेलिंगटन: मार्टिन गुप्तिल(100 रन) की शतकीय पारी और मैट हेनरी (53 रन पर चार विकेट) की गेंदबाजी से न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान को पांचवें और आखिरी वनडे मुकाबले में शुक्रवार को 15 रन से पराजित करने के साथ सीरीज में 5-0 से क्लीन स्वीप कर ली। न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुये निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 271 रन का स्कोर खड़ा किया जिसके जवाब में पाकिस्तानी टीम 49 ओवर में 256 पर ऑल आउट हो गयी। इसी के साथ मेजबान कीवी टीम ने पाकिस्तान का पांच मैचों की सीरीज में सफाया कर दिया।    न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज को मैच में उनकी 126 गेंदों में 10 चौकों और एक छक्के से सजी 100 रन की पारी के लिये मैन ऑफ द मैच चुना गया जो उनका 13वां वनडे शतक है। उन्हें सीरीज में ओवरऑल प्रदर्शन के लिये मैन ऑफ द सीरीज भी चुना गया। मैच में गुप्तिल ने टीम

  • विराट कोहली को दोनों वर्गों में बनाया चैंपियन

    नई दिल्ली: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी अवॉर्ड्स 2017 में मोर्चा मार लिया है. एक सितम्बर 2016 से 31 दिसम्बर 2017 के बीच किए गए प्रदर्शन के आधार पर दिए गए इन अवॉर्ड्स में विराट कोहली तीन पुरस्कारों की रेस में थे. तीन में से विराट कोहली दो वर्गों में पुरस्कार झटकने में कामयाब रहे. बस विराट टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर की रेस में ही ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ से मात खा गए. विराट कोहली ने साल 2017 में खेले 26 वनडे मैचों में 76.84 की औसत से 1460 रन बनाए. इसमें 6 शतक शामिल रहे, जबकि टेस्ट मैचों में भी उनका बल्ला खूब बोला  उन्होंने 10 टेस्ट मैचों में 75.64 की औसत से 1059 रन बनाए, जिसमें 5 शतक शामिल रहे. विराट ने अवॉर्ड मिलने पर कहा, 'मेरे लिए ये प्लेयर ऑफ द ईयर बनना गर्व की बात है'. पिछले साल ये अवॉर्ड अश्विन को मिला था.',  विरा

  • इस गेंदबाज को बताया अपना आदर्श मानते है लुंगी एनगिदी

    जालन्धर : भारत को सेंचुरियन टेस्ट में बैकफुट पर लाने वाले दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज लुंगी एनगिदी आंद्रे नेल को अपना आदर्श मानते हैं। आंद्रे नेल दक्षिण अफ्रीका की तरफ से 36 टेस्ट खेलते हुए 123 विकेट ले चुके हैं। 79 वनडे में भी उन्होंने 106 विकेट निकाली थी। नेल को उनके रोचक व्यवहार के लिए भी जाना जाता है। इंंडिया से सीरीज जीने के बाद आयोजित प्रेस कांन्फ्रैंस में नेल के बारे में बात करते हुए लुंगी ने कहा कि वह शुरू से ही आंद्रे नेल की गेंदबाजी देखना पसंद करते थे। हालांकि कई लोग यह भी कहते थे कि हमारा बॉलिंग एक्शन भी एक है। लेकिन मैं उन्हें ना में ही जवाब देता था। हालांकि मखाया नतिनि और डेल स्टेन भी ऐसे बॉलर हैं जिन्हें मैं अपना आदर्श कह सकता हूं। बता दें कि लुंगी ऐसे 7वें दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर हैं जिन्होंने अपने पहले ही टेस्ट में मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड जीता

  • IND vs SA : चेतेश्‍वर पुजारा दूसरी पारी में भी रन आउट हुए

    सेंचुरियन: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्‍ट में टीम इंडिया के सामने हार का खतरा मंडरा रहा है. मैच के चौथे दिन स्‍टंप्‍स के समय 23 ओवर के बाद भारतीय टीम की दूसरी पारी का स्‍कोर तीन विकेट खोकर 35 रन था. मुरली विजय, केएल राहुल और कप्‍तान विराट कोहली पेवेलियन लौट चुके हैं.चेतेश्‍वर पुजारा 11 और पार्थिव पटेल 5  रन बनाकर क्रीज पर थे. टीम इंडिया को मैच में जीत के लिए 252 रन और बनाने हैं जबकि उसके सात बल्‍लेबाज आउट होने बाकी हैं. पहले टेस्‍ट में भारतीय बल्‍लेबाजों के कमजोर प्रदर्शन को देखते हुए जीत फिलहाल बेहद दूर ही नजर आ रही है. मैच के अंतिम दिन आज भारतीय बल्‍लेबाजों की कड़ी परीक्षा होगी.पांचवें दिन 37.1 ओवर के बाद भारतीय टीम की दूसरी पारी का स्‍कोर सात विकेट पर 83 रन है. रोहित शर्मा 20  रन बनाकर नाबाद हैं. च

  • भारतीय अंडर 19 टीम में हुई आदित्य ठाकरे की एंट्री

    माउंट माउंगानुइ:  तेज गेंदबाज आदित्य ठाकरे को यहां आईसीसी विश्व कप में भाग ले रही भारत की अंडर 19 टीम में चोटिल ईशान पोरेल की जगह शामिल किया गया है। बीसीसीआई ने एक बयान में कहा कि भारत के मध्यम तेज गेंदबाज ईशान पोरेल को अॉस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच के दौरान बायें पैर में चोट लगी थी। उन्होंने कहा  कि बीसीसीआई की मेडिकल टीम उनकी स्थिति पर नजर रखे हुए है। बीसीसीआई ने कहा कि भारतीय टीम प्रबंधन ने आदित्य ठाकरे को कवर के तौर पर बुलाया है जो 26 जनवरी को क्वार्टर फाइनल से पहले यहां पहुंचेंगे। भारत को तीसरे ग्रुप मैच में शुक्रवार को जिम्बाब्वे से खेलना है।    

  • कप्तान पर निर्भर करती है गेंदबाजी : शमी

    सेंचुरियन: भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने सेंचुरियन के सुपर स्पोर्ट्स पार्क की पिच को लेकर गुस्सा निकाला है। मंगलवार को दूसरे टेस्ट के चौथे दिन का खेल खत्म होने के बाद शमी ने कहा कि उन्हें नहीं मालूम कि इस तरह की पिच क्यों तैयार की गई है। बता दें कि 5वें दिन का खेल शुरु होने से पहले ही टीम इंडिया पूरी तरह से बैकफुट पर नजर आ रही है। भारतीय टीम ने 35 रन के अंदर अपने 3 विकेट गंवा दिए। यहां तक टीम इंडिया की सबसे बड़ी उम्मीद विराट कोहली भी आउट हो चुके हैं। शमी ने कहा "हमें बिलकुल ऐसी उम्मीद नहीं थी कि यहां पर गेंद इतनी नीचे आएगी। अभी तक के विदेशी दौरों पर मैंने ऐसी पिच नहीं देखी है जहां पर इतनी नीचे और धीमी गेंद आ रही हो। इसलिए मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्या सोचकर यह विकेट खेलने के लिए दिया है। हालांकि, जो भी विकेट हो हमें उसी पर खेलना पड़ता है और दो