बैटमिंटन

  • डेन ट्रेवर्स- चीन के लिए भारत चिंता की बात होना चाहिए

    नई दिल्ली: राष्ट्रमंडल खेलों के पूर्व स्वर्ण पदक विजेता स्कॉटलैंड के डेन ट्रेवर्स का मानना है कि चीन के लिए भारत चिंता का कारण होना चाहिए, क्योंकि वह अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन में तेजी से मजबूत ताकत बन रहा है. बीडब्ल्यूएफ सीनियर विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा लेने भारत आए ट्रेवर्स ने कहा, चीन के लिए भारत चिंता की बात होना चाहिए. भारत जिस तरह खेल रहा है वह दबदबा बना सकता है और सीनियर बैडमिंटन राष्ट्र बन सकता है. भारत के पास काफी अच्छे खिलाड़ी हैं. वह लगातार अच्छे नतीजे दे रहे हैं. ट्रेवर्स ने कहा कि आजकल विरोधी खिलाड़ी भारतीय खिलाड़ियों से 'डरने' लगे हैं. भारतीय खिलाड़ी मजबूत हो गए हैं उन्होंने कहा, विरोधियों को पता है कि भारतीय खिलाड़ियों को हराने के लिए उन्हें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा. भारतीय खिलाड़ी हमेशा तकनीकी रूप से सक्षम रहे है

  • सिंधु ने पहला गेम 22 मिनट में अपने नाम किया, सेमीफाइनल में रखा कदम

    नई दिल्ली: ओलिंपिक और वर्ल्ड चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता पीवी सिंधु ने कोरिया ओपन के सेमीफाइनल में कदम रख लिया है. हैदराबादी बैडमिंटन स्टार सिंधु ने पहला गेम 22 मिनट में 21-19 से अपने नाम किया. दूसरा गेम जापान की वर्ल्ड नंबर 19 मिनात्सु मितानी ने21-16 से ने अपने पक्ष में कर लिया. लेकिन तीसरे गेम में सिंधु ने मितानी की एक नहीं चलने दी. सिंधु तीसरे गेम में मितानी पर लगातार हावी रहीं. 63मिनट लंबे चले इस मैच को सिंधु ने 21-19, 16-21, 21-10 से जीत लिया. वर्ल्ड नंबर 4 सिंधु अब तक दो सुपर सीरीज़ के ख़िताब अपने नाम कर चुकी हैं. 22 साल की सिंधु दो सुपर सीरीज़ प्रतियोगिताओं में उपविजेता भी रही हैं. सिओल में खेले जा रहे कोरिया ओपन के सेमीफ़ाइनल में सिंधु की टक्कर वर्ल्ड नंबर 3 कोरियाई खिलाड़ी सुंग जी ह्यून और वर्ल्ड नंबर 7 चीनी खिलाड़ी एचई बिंगजिआओ से होगी. इससे

  • कोरिया ओपन के दूसरे दौर में पहुंचे प्रणीत

    सियोल। भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी बी. साई प्रणीत ने शानदार आगाज करते हुए कोरिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है। पुरुष एकल वर्ग के पहले दौर में बुधवार को प्रणीत ने हांगकांग के हु युन को मात दी। प्रणीत के लिए इस मैच में जीत अधिक मुश्किल नहीं रही। उन्होंने केवल 29 मिनट के भीतर युन को सीधे गेम में 21-15, 21-10 से मात देकर अगले दौर में प्रवेश कर लिया। उल्लेखनीय है कि इस टूर्नामेंट में किसी भी भारतीय खिलाड़ी ने खिताबी जीत हासिल नहीं की है। पुरुष एकल वर्ग में प्रणीत के साथ-साथ पारुपल्ली कश्यप और समीर वर्मा ने भी दूसरे दौर में कदम रख लिया है। हालांकि, एच.एस. प्रणॉय को हारकर बाहर होना पड़ा। इसके अलावा, महिला युगल वर्ग में भारत को निराशा हाथ लगी। अश्विनी पोनप्पा और एन. सिक्की रेड्डी की जोड़ी पहले दौर में ही हार गई। उन्हें मलेशियाई जोड़ी फिए चो सूंग औ

  • साइना नेहवाल ने गोपीचंद की अकादमी में ट्रेनिंग करने का किया फैसला

    हैदराबाद, पीटीआई। लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता शटलर साइना नेहवाल ने अपने भविष्य के लक्ष्यों को हासिल करने के उद्देश्य से पूर्व कोच पुलेला गोपीचंद की अकादमी में ट्रेनिंग करने का फैसला किया है। साइना ने अपने ट्विटर हैंडल पर इसकी घोषणा की। उन्होंने कहा कि कुछ समय से मैं अपना ट्रेनिंग बेस गोपीचंद अकादमी में बनाने के बारे में सोच रही हूं। मैंने इसके बारे में गोपी सर से भी चर्चा की और मैं शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने दोबारा मेरी मदद करने पर सहमति जता दी है। उन्होंने कहा कि अपने करियर के इस चरण में मुझे लगता है कि वह मेरे लक्ष्यों को हासिल करने में मेरी मदद कर सकते हैं। 27 वर्षीय चैंपियन शटलर ने इंचियोन 2014 एशियाई खेलों से पहले राष्ट्रीय कोच गोपीचंद से अलग होने और बेंगलुरु में विमल कुमार के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग करने का फैसला किया था। साइना ने लिखा कि मैं वि

  • मुकाबला 39 मिनट में अपने नाम किया खिलाड़ी सिंधू ने

    ग्लास्गो। भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधू और साइना नेहवाल ने शुक्रवार को विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के सेमीफाइनल का टिकट कटाने के साथ ही अपना कांस्य पदक पक्का कर लिया। शानदार फॉर्म में चल रही रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधू ने क्वार्टर फाइनल में चीन की पांचवीं वरीयता प्राप्त सुन यी को 21-14, 21-9 से बाहर का रास्ता दिखा दिया। चौथी वरीयता प्राप्त हैदराबादी खिलाड़ी सिंधू ने मुकाबला सिर्फ 39 मिनट में अपने नाम किया। सिंधू इससे पहले 2013 और 2014 में कांस्य पदक जीत चुकी हैं। लेकिन इस बार यह 22 वर्षीय शटलर हर हाल में अपने पदक का रंग बदलना चाहेंगी और ऐसा करने से वह सिर्फ एक जीत दूर हैं। सिंधू वर्ल्ड चैंपियनशिप में तीन पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी होंगी। कामयाबी केवल सिंधू की झोली में ही नहीं आई,बल्कि लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज और पिछली बार विश्व चैंपियनशिप मे

  • विश्‍व बैडमिंटन चैंपियनशिप: अजय जयराम को चीन के चेन लोंग ने हराया

    ग्लासगो: भारत के पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी बी. साई प्रणीत और अजय जयराम गुरुवार को विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप से हारकर बाहर हो गए हैं. दोनों खिलाड़ियों को चैंपियनशिप के तीसरे दौर में हार झेलनी पड़ी. प्रणीत को चीनी ताइपे के चोउ तिएन चेन ने मात दी. वहीं जयराम को चीन के दिग्गज खिलाड़ी चेन लोंग ने टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखाया. जयराम को चेन लोंग ने हराया पहला गेम जीतने के बावजूद प्रणीत को चोऊ के हाथों 21-19, 10-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा. यह मैच एक घंटे एक मिनट तक चला. वहीं, जयराम को 5वें वरीय चेन लोंग ने 21-11, 21-10 से मात देते हुए बाहर किया. चेन लोंग ने मैच अपने नाम करने के लिए 41 मिनट का समय लिया.   

  • विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप: श्रीकांत ने फ्रांस के खिलाड़ी लुकास कोर्वी को मात दी

    ग्लासगो (स्कॉटलैंड): भारतीय पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत ने बुधवार को अपने दमदार प्रदर्शन को बरकरार रखते हुए विश्व चैंपियनशिप के प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है. हालांकि, महिला एकल वर्ग के दूसरे दौर में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी तन्वी लाड को निराशा हाथ लगी है. उन्हें तीसरी विश्व वरीयता प्राप्त कोरियाई खिलाड़ी सुंग जी ह्यून ने बाहर का रास्ता दिखाया. श्रीकांत के कोर्वी को हराया पुरुष एकल वर्ग के दूसरे दौर में श्रीकांत ने फ्रांस के खिलाड़ी लुकास कोर्वी को मात दी. श्रीकांत ने 32 मिनट के भीतर कोर्वी को सीधे गेमों में 21-9, 21-17 से मात देकर अगले दौर में कदम रखा. श्रीकांत का सामना अब प्री-क्वार्टर फाइनल में डेनमार्क के खिलाड़ी आंद्रेस एंटोनसेन से होगा. आंद्रेस ने दूसरे दौर में इंडोनेशिया के खिलाड़ी टोमी सुगियार्तो को

  • विश्‍व बैडमिंटन चैंपियनशिप: अजय ने फ्रांस के लुकास कोर्वी को सीधे गेमों में हराया !

    ग्लास्गो: विश्‍व बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारत के खिलाड़ि‍यों का शानदार प्रदर्शन जारी है. भारत के अजय जयराम ने नीदरलैंड के मार्क काजो को सीधे गेम में हराकर प्री क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया लेकिन समीर वर्मा और रितुपर्णा दास हारकर बाहर हो गए.13वीं वरीयता प्राप्त जयराम ने 33 मिनट तक चले मुकाबले में दुनिया के 50वें नंबर के खिलाड़ी काजो को 21-13, 21-18 से हराया.अब उनका सामना दो बार के गत चैम्पियन चीन के चेन लोंग से होगा. पुरुष वर्ग में के. श्रीकांत और महिला वर्ग में पीवी सिंधु और साइना नेहवाल भी प्री. क्‍वार्टर फाइनल में पहुंच चुके हैं. सैयद मोदी ग्रांप्री गोल्ड विजेता समीर वर्मा हालांकि 2010 राष्ट्रमंडल खेल विजेता 16वीं वरीयता प्राप्त राजीव ओसेफ से हारकर बाहर हो गए. राष्ट्रीय चैम्पियन रितुपर्णा को स्थानीय खिलाड़ी कस्र्टी गिलमोर ने 21-16, 21-13 से