गृह सज्जा

  • ऐसे घर को दें युनिक और डिफरेंट लुक

    घर सजाने के लिए आप बाजार से मंहगे डैकोरेटिव आर्ट पीस खरीदकर लाते है। इसकी बजाए बजाए आप घर पर ही होम डैकोरेशन के लिए आसानी से आर्ट पीस बना सकते है। इससे आपके पैसे भी खर्च नहीं होंगे और घर भी डैकोरेट हो जाएगा। आज हम आपको घर सजाने के लिए ऐसे ही कुछ DIY Ideas बताएंगे, जो घर को एक नया और यूनिक लुक देंगे। आइए जानते है घर सजाने के या आसान आइडियास।  1. DIY Pompom Rug ऊन से या फैदर से पॉम-पॉम फ्लॉवर बना कर उसे सुई की मदद से जोड़ दे। आप इससे सॉफ्ट और स्टाइलिश डोरमेट के साथ-साथ डैकोरेशन का सामान भी बना सकते है। 2. Picture Frames With Tape बिना फ्रेम के फोटो लगाने के लिए दीवार पर पेंसिल से फोटो साइज का फ्रेम डिजाइन बनाकर बीच में ग्लू से फोटो लगाकर या मैसेज लिख लें। इसके बाद टेप लगा कर डिजाइन बना लें।

  • स्मार्ट तरीके से करें Corner डेकोरेशन

    अपने घर को सजाना काफी मजे का काम है। हम अपनी मर्जी से घर में फर्नीचर, वॉल डैकोरेशन और रंगों का चुनाव खुद करते है तो मन को अलग ही सुकून मिलता है। साफ-सथुरा और स्मार्ट तरीके से सजा घर हमारी दिन भर की थकान को एकदम से दूर कर देता है। अगर घर छोटा हो तो उसकी डैकोरेशन करना काफी मुश्किल होता है। अक्सर हम देखते है कि घर के सभी कमरें खूबसूरत तरीके से सजे तो होते है लेकिन उनका कॉर्नर काफी खाली-खाली सा लगता है। बस आज हम आपको घर के कॉर्नर को स्मार्ट तरीके सजाने के कुछ टिप्स बताएंगे, जिससे घर की बाकी जगह पर स्पेस भी रहेगी और कॉर्नर का इस्तेमाल भी हो जाएगा।  कॉर्नर शेल्फ : घर के कॉर्नर पर छोटी-छोटी शेल्फ बनाएं और उसपर कोई भी शो पीस सजाएं।  कॉर्नर प्लांट : अगर आप कॉर्नर पर शेल्फ नहीं बनाना चाहते है तो वहां कोई खूबसूरत

  • ऐसे सजाएं Teenage बच्चे का कमरा

    हर कोई चाहता है कि उसके घर में परिवार की जरूरत की हर चीज मौजूद हो। जिस तरह के बच्चे बड़े होते हैं, उसी तरह से उनकी जरूरतें भी बदलती रहती हैं। टीनएज में बच्चों का लाइफस्टाइल बहुत बदल जाता है। पहले की बजाए अब बच्चे खिलौनों से दूरी बना कर रखते हैं। उनको अब फैमिली से ज्यादा अकेले रहना पसंद होता है। आपके बच्चों की उम्र भी टीनएज में आ गई है तो इस तरह सजाएं अपने बच्चों को कमरा।  फ्लोर का रंग  टीनएज में बच्चों पर पढ़ाई का बहुत बोझ हो जाता है। कई बार तो बच्चों के दोस्त भी घर पर पढने के लिए आ जाते हैं। कमरे में जगह की कमी होने के कारण फ्लोर को कलरफुल तरीके से सजा सकते हैं। इससे वह आराम से नीचे बैठकर अपने प्रॉजक्ट तैयार कर सकेंगे।  परदे भी बदलें छोटे बच्चे पिंक कलर के या फिर खिलौनें,कार्टून और च

  • बेडरूम को इस तरह बनायें romantic

    आपके खास पल और भी खास हो सकते हैं अगर आपके बेडरूम कुछ खास लगे। ऐसे में ये 7 उपाय आपके बेडरूम को रोमांटिक बनाने में मददगार हो सकते हैं। शुरुआत करें अपने बिस्तर सें। इस कड़ी में आरामदायक बिस्तर सबसे पहले आता है। फोम या रेक्रॉन के मैट्रस चुन सकते हैं। बिस्तर जितना आरामदायक होगा, रूमानियत उतनी ही बढ़ेगी। मल्टीकलर बेडशीट के बजाय सॉलिड रंगों का चुनाव करें। लाल, पर्पल, रस्ट, रॉयल ब्लू जैसे रंग की बेडशीट के साथ हल्के रंग के कुशन का कांबिनेशन बना सकते हैं। सिल्क या साटन की बेडशीट इस मामले में अच्छा विकल्प है। अगर आपके बेडरूम में मास्टर बेड है तो आप चार से 6 कुशन का सेट भी साथ में सजा सकते हैं। रोमांस के पलों में मूड के हिसाब से लाइटिंग का भी महत्व है। आप डिमर की सहायता से लाइट्स को डिम रख सकते हैं। बेडरूम में प्राइवेसी मेनटेन करने के लिहाज से हेवी परदे अच्छा विकल्

  • अपने प्यारे से आशियाने को यूं दें नया अंदाज

    छोटा सा घर है ये मगर तुम इसको पसंद कर लो’ इस गाने की पंक्तियां तो आपको याद ही होंगी। एक प्‍यारे से आशियाने की चाह हर किसी में होती है। पर अपने घर को बार-बार नया लुक देना जेब पर  कई बार भारी पड़ जाता है। ऐसे में पुराने फर्नीचर व अन्य एक्सेसरीज को फिर से नया रूप देकर आप अपने घर को नए अंदाज में खूबसूरती से सजा सकते हैं। अतिरिक्त खर्च किए अपने पुराने फर्नीचर और एक्सेसरीज को नया रूप देने के कुछ खास उपाय सिर्फ आपके लिए- * अपने पुराने फर्नीचर को नया अंदाज देने के लिए उन्हें चमकीले रंगों से फिर से पेंट करें। या आप इनके लिए रंगीन अपहोल्स्ट्री का प्रयोग करके भी इन्हें नया रूप दे सकते हैं। * अगर आपके पास कोई पुरानी कॉफी टेबल है जो पुरानी होने के कारण अब बेकार लगने लगी है तो उसे एक शानदार बेंच बना सकते हैं। इसके लि

  • दिवाली में इन आसान तरीकों को अपनाकर घर को दें फेस्टिव लुक

    हर साल की तरह इस साल भी अगर आप घर में दिवाली की सजावट को लेकर परेशान हो रहे हैं तो घबराइए मत। इस आसान तरीकों को अपनाकर आप भी अपने घर को दे सकते हैं फेस्टिव लुक । परदे बदलते वक्त के साथ घर की सजावट के तौर-तरीके भी बदल चुके हैं। इस साल घर की खिड़की और दरवाजों को सजाने के लिए रंगीन पर्दो का इस्तेमाल करें। इसके लिए आप क्रेप के परदों का चुनाव भी कर सकते हैं। ये परदे खूबसूरत दिखने के साथ-साथ हल्के भी होते हैं। इन परदों में गोल्डन रंग आपके त्योहार को और खास बना सकता है।  चावल की रंगोली घर की एंट्रेंस को चावल की रंगोली से सजाएं। ऐसा करने के लिए पहले ही रंगोली का डिजाइन एक कागज पर तैयार कर लें। ट्रेडिशनल लुक देने के लिए आप अपनी रंगोली के डिजाइन में सूरज, चांद, कलश या फिर किसी फूल को भी चुन सकते हैं।

  • दीवाली स्पेशल : रंगोली से सजाएं घर-आंगन

    रोशनी की जगमगाहट का त्योहार यानि की दीपावली बस अब कुछ ही दिनों में आने वाला है। इस मौके पर लोग अपनी दुकान, घर और आफिस की अच्छे से साफ सफाई व डैकोरेशन करते हैं। दीवाली पर रंगोली बनाना भी बहुत शुभ माना जाता है। यह परंपरा बरसों से चली आ रही है और ऐसा माना जाता है कि मां लक्ष्मी जी के स्वागत के लिए बनाई गई रंगोली बनाने से सुख समृद्धि का वास होता है व नाकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाती है। इसके अलावा अतिथि के स्वागत, खास इंवेट या फैमिली फंक्शन के मौके पर भी रंगोली बनाई जाती है। रंगोली बनाने के बहुत सारे तरीके हैं। पहले लोग चावल, हल्दी, सिंदूर और लकड़ी के बूरे, रंग बिरंगे फूलों से ही रंगोली बनाते थे जबकि आजकल आपको मार्कीट में बहुत तरह के रंग मिल जाएंगे। इसके अलावा आप दीया रंगोली, ग्लिटरी रंगों वाली रंगोली भी बना सकते हैं। वैसे इस बार स्टिकर रंगोली व कुंदन रंगोली भी काफी पस

  • घर सजाते समय रखे इन बातो को याद, नहीं तो होगा नुकसान

    दिवाली की तैयारियां तो यूं तो महीने भर भले से ही शुरू होने लग जाती है, लेकिन दिवाली के कुछ दिन पहले भी घर की एक बार और साफ सफाई करके सजाया जाता है। इस समय अधिकतर लोगों की तैयारियां अंतिम चरण पर होगी कहा जाता है घर इस दिन घर को अच्छे तरह से सजाना चाहिए, ताकि मां लक्ष्मी घर आए। कई बार घर को अधिक सजाने के चक्कर में अनजाने में कुछ ऐसी गलतियां भी कर बैठते हैं, जिससे वास्तु दोष लगने लगता है। इसीलिए घर सजाते है इन बातों का जरूर ध्यान रखें।अगर किसी जरूरतमंद को आपके अनुपयोगी सामन की जरूरत है तो उन्हें दे दें। वास्तुशास्त्र के अनुसार कबाड़ में रखी वस्तुओं से नकारात्मक उर्जा का संचार होता है। घर की सुंदरता और सजावट देखकर अगर लक्ष्मी माता आपके घर आ भी जाएंगी तो कबाड़ से निकलने वाली नकारात्मक उर्जा के प्रभाव के कारण वापस लौट जाएंगी।घर को महल की तरह सजा लें और घर के चारों त