करियर

  • बनाएं इस फील्ड में करियर, नहीं रहेंगे बेरोजगार

    नर्सिंग दुनिया का सबसे ज्यादा सेवामयी पेशा है। मेडिकल का कोई ऐसा क्षेत्र नहीं है, जहां नर्सो की जरूरत न होती हो। यदि आपमें भी सेवा करने का जज्बा है तो इस क्षेत्र में करियर बना सकते हैं। चिकित्सा के क्षेत्र में महज डॉक्टर शामिल नहीं होते, बल्कि इनके सहायक के तौर पर कई दूसरे लोग भी कार्य करते हैं। इन्हें भले ही डॉक्टरों के सामने नजरअंदाज कर दिया जाता है, लेकिन वे डॉक्टरों से कम सेवाभाव के साथ काम नहीं कर रहे होते। इस प्रकार के काम करने वालों के प्रोफेशन को पैरामेडिकल का नाम दिया जाता है। एएनएम या हेल्थ वर्कर इसके लिए योग्यता के रूप में अभ्यर्थी का 10वीं पास होना जरूरी है। इस कोर्स की अवधि 18 माह की होती है। जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी (जीएनएम)- इस कोर्स के लिए अभ्यर्थी को 12वीं कक्षा में भौतिक, रसायन और जीव विज्ञान विषय के साथ 40 प्

  • इस फील्ड में बनाएं करियर, कमाए 2-4 लाख तक

    कुछ ही समय बाद 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं शुरु होने वाली है। इस समय स्टूडेंट्स दिल लगा कर परीक्षाओं की तैयारियों में जुटे है ताकि अच्छे नंबर ला सकें। और अपने किसी अच्छी फील्ड में करियर बना सकें। वैसे भी स्टूडेंट्स के लिए आजकल करियर के कई सारे विकल्प मौजूद है वह अपनी मर्जी से किसी भी फील्ड में करियर बना सकते है। एेसे में अगर आपकी रुचि कंप्यूटर में ज्यादा है तो डाटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर आपके लिए बेहतरीन करियर साबित हो सकता है। आइए जानते है कि कैसे आप इस फील्ड में करियर बना सकते है। किसी भी कंपनी के लिए उनके डाटाज बेहद महत्वपूर्ण होते हैं। इन डाटा को सुरक्षित और अपडेट करने के डाटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर की डिमांड तेजी से बढ़ती जा रही है। इनका  प्रमुख काम होता है कंपनी की छोटी-छोटी गतिविधियों का ब्योरा रखना और उस ब्योरे से संबंधित डाटा को लगातार अपडेट करते रहना

  • नि:शुल्क प्रवेश के लिये प्राइवेट स्कूलों में आधार अनिवार्य

    मध्यप्रदेश के प्राइवेट स्कूलों की पहली कक्षा में राइट टू एजुकेशन के तहत नि:शुल्क प्रवेश के लिये वर्ष 2018-19 के शैक्षणिक सत्र की प्रक्रिया शीघ्र प्रारंभ होगी और इसके लिये आधार पंजीयन को भी अनिवार्य कर दिया है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार प्रदेश में शिक्षा का अधिकार कानून के तहत प्राइवेट स्कूल की पहली कक्षा में नि:शुल्क प्रवेश के लिये ऑनलाइन प्रक्रिया अपनायी जाती है। इसके लिये आर.टी.ई पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन-पत्र का प्रारूप उपलब्ध करवाया जाता है। इसके साथ ही प्रदेश के संबंधित जन-शिक्षा केन्द्र, बीआरसी, बीईओ कार्यालय, जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय और जिला शिक्षा केन्द्र कार्यालय से भी आवेदन-पत्र नि:शुल्क उपलब्ध करवाये जाते हैं। ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत आवेदक स्वयं पोर्टल पर जाकर निर्धारित फार्म में ऑनलाइन पंजीयन करवा सकते हैं। इस संबंध में केन्द्र सरकार ने आगामी सत्र में नि:शुल्क प्रवेश के लिये

  • कर रहें है करियर प्लान तो ध्यान रखें ये बातें

    आज के समय में हर कोई अपने करियर को लेकर बहुत सजग हो गया है। स्टूडेंट्स अब पहले से सोच लेते है कि उन्हें किस फील्ड में करियर बनाना है। अब करियर के कई सारे विकल्प मौजूद है, लेकिन करियर प्लान करना हमेशा से ही सबसे महत्वूर्ण और उलझन भरा काम रहा है। शायद यहीं वजह है कि करियर प्लान करने से पहले काफी सोच विचार किया जाता है और सारी बातों पर गौर करने के बाद ही कोई फैसला लिया जाता है, लेकिन नौकरीपेशा लोगों के लिए भी करियर प्लान करना उतना ही जरुरी है जितना स्टूडेंट्स के लिए । आइए जानते है कुछ एेसी बातों के बारे में जो करियर प्लान करते समय आपको ध्यान में रखनी चाहिए करियर को क्या चाहिए  आप क्या चाहते है से जरुरी है कि आपके करियर की क्या जरुरतें है ?कितनी ट्रैवलिंग होगी, कितने घंटे ऑफ़िस में देने पड़ेंगे, कंपीटिशन कितना होेगा इत्यादि। हर जॉ

  • इन क्षेत्रों में महिलाएं करे अपने करियर की शुरुआत

    पिछले कुछ वर्षो में करियर के क्षेत्र में काफी बदलाव आया है और महिलाएं भी अपने करियर के लेकर काफी चिंतित रहती हैं ज्यादातर महिलाओं का रुझान प्राइवेट सेक्टर में नौकरी के प्रति ज्यादा बढ़ रहा है क्योंकि वो एक ही नौकरी में बंधने की बजाय जहां अॉप्शन अच्छा मिल जाएं वहां जाना पसंद करती हैं । इन क्षेत्रों में महिलाओं अपने करियर की शुरुवात कर सकती हैं। मीडिया के क्षेत्र में  आज ज्यादातर महिलाएं मीडिया के क्षेत्र में बढ चढ़कर अपने करियर की शुरुवात करना पसंद करती है। इंटरनेट मीडिया के चलते इस क्षेत्र मेें नौकरियों की संभावनाएं भी काफी बढी हैं। MBA ,Business Administration And Information Technology  जैसे क्षेत्रों में अपने करियर की शुरुवात करना पसंद करती है ।पहले युवतियां एेसे क्षेत्रों से दूर रहती ह

  • मनचाही सफलता पाने के लिए अपनाएं ये उपाय

    हम मानें या ना मानें, वास्तुशास्त्र का हमारे जीवन में बेहद अहम योगदान है। ये हमारे जीवन पर गहरा प्रभाव डालता है। इस के नियम अंधविश्वास ना होकर पूरी तरह वैज्ञानिक तर्कों पर आधारित हैं, जिसकी वजह से समाज चाहे कितना ही मॉडर्न क्यों ना हो जाए इन नियमों को नजरअंदाज नहीं कर सकता। वास्तुशास्त्र जीवन के हर क्षेत्र में अपनी मौजूदगी दर्ज करवाता है। घर हो या ऑफिस, खाना हो या सोना सब जगह वास्तुशास्त्र के नियमों को लागू किया जा सकता है। ये नियम व्यक्ति के जीवन को सुधार भी सकते हैं और अगर इनका पालन न किया जाए तो यह किसी भी व्यक्ति के जीवन को बुरा सपना भी बना सकते हैं। इसलिए हर किसी को वास्तु से जुड़ी बातों और नियमों पर ध्यान देना चाहिए।  आज-कल के दौर में ज्यादातर लोग वर्किंग होते हैं। लेकिन कई लोगों की शिकायत होती है कि काफी मेहनत करने के बाद भी उन्हें मनचाही सफ

  • इस फील्ड में बनाएं करियर , मिलेंगे रोजगार के अवसर

    स्पेस साइंस एक चुनौतीपूर्ण क्षेत्र है। इसकी पढ़ाई रोजगार के बेहतरीन मौके उपलब्ध कराती है। क्या है स्पेस साइंस और क्या हैं इसमें करियर की संभावनाएं, जानते हैं सेटेलाइट व नई तकनीक के जरिए मौसम अथवा ग्रह-उपग्रह के बारे में सटीक सूचना दे पाना अब पहले से ज्यादा आसान हो गया है। वायुमंडल अथवा पृथ्वी की हलचलों का पता लगाना भी ज्यादा आसान हो गया है। यह सब संभव हो पाया है ‘स्पेस साइंस’ से। साल दर साल इसमें नई चीजें शामिल होती जा रही हैं। इसमें एडवांस कम्प्यूटर एवं सुपर कम्प्यूटर से डाटा एकत्र करने का कार्य किया जाता है। डाटा न मिलने की स्थिति में आकलन के जरिए किसी निष्कर्ष तक पहुंचने की कोशिश की जाती है। इस काम से जुड़े प्रोफेशनल स्पेस साइंटिस्ट कहलाते हैं। समय के साथ यह एक सशक्त करियर का रूप धारण कर चुका है। इस क्षेत्र में युवाओं की दिलचस्पी तेजी से बढ़ रही

  • इंटरव्यू में एेसे सवाल पूछती है कंपनियां

    आजकल जॉब मार्केट काफी कॉम्पीटेटिव हो गई है। जॉब पाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है। आज के दौर में किसी जॉब के लिए लिखित परीक्षा से ज्यादा कठिन इंटरव्यू पास करना होता है। सरकारी विभाग हो या निजी क्षेत्र आज हर जगह इंटव्यू के बगैर कैडिडेट को हायर किए जाना संभव नही होता है। खासकर बिजनेस के क्षेत्र में, क्योंकि इंटरव्यू के जरिए कैंडिटेड की कैपेसिटी से लेकर उससे जुड़ी बातों का आकलन कर लिया जाता है। क्योंकि इंटरव्यू के जरिए कैंडिटेड की कैपेसिटी से लेकर उससे जुड़ी बातों का आकलन कर लिया जाता है। इस दौरान चयनकर्ताओं के सवालों के जवाब में ही कैंडिटेड की एक सही तस्वीर सामने आ जाती है। जिससे कई बार लोग लास्ट में होने वाले इन इंटरव्यू के सवालों से एक अच्छी जॉब से हाथ धो बैठते हैं। सबसे खास बात तो यह है कि इस दौरान कुछ सवाल तो ऐसे हैं जो काफी सरल होते हैं और लगभग हर इंटरव