विविध

  • महादेव कहते है की सुबह इस स्तुति का पाठ करने वाले के नहीं रहते बुरे दिन

    सुबह की खुशनुमा शुरुआत से सारा दिन शुभ और मंगलमय रहता है। धर्म-ग्रथों में दिन को सकारात्मक बनाने के लिए बहुत सारी हिदायतें दी गई हैं। जिससे की बंद पड़े किस्मत के ताले खुलने लगते हैं और व्यक्ति सफलता की और अग्रहर होने लगता है। यदि दिन का आरंभ अशुभता के साथ होता है तो सारा दिन नकारात्मकता हावी रहती है।     देवों के देव महादेव बहुत भोले हैं, उनसे उनके भक्त किसी भी तरह की याचना करते हैं तो वह उसे उसी क्षण पूरा कर देते हैं। मनुष्य के कल्याण को ध्यान में रखते हुए  वामन पुराण के चतुर्दशो ध्याय: 21 से 25 श्लोक के अंतर्गत महादेव ने एक स्तुति का विवरण दिया है। जो व्यक्ति के शुभ दिनों का संचार करती है और बुरे दिनों को हावी नहीं होने देती। नीलकंठ महादेव कहते हैं की जो धरतीवासी प्रात: उठकर एकग्रचीत होकर इस स्तुति का पाठ करेगा,

  • बदलते मौसम में डाइट का रखें ध्यान, वरना हो सकते है बीमार

    मौसम बदलने के कारण अक्सर लोगों को सर्दी-जुकाम जैसी छोटी-मोटी बिमारियां घेर लेती हैं। मौसम बदलते ही बीमार पड़ने का संकेत यह है कि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर है। इसके लिए बहुत जरूरी है कि आप अपनी डाइट पर विशेष ध्यान दें। बदलते मौसम में अगर खान-पान सही रहेगा तो बीमारियां नहीं होंगी। जानिए बदलते मौसम में कैसी डाइट होनी चाहिए। पेय पदार्थ सर्दी होने पर ज्यादा से ज्यादा गर्म पेय पदार्थों का सेवन करें। इसके लिए आप सूप, चाय, गर्म दूध आदि चीजें शामिल कर सकते हैं। साथ ही कुछ चीजों में आप काली मिर्च, दालचीनी, हल्दी या फिर अदरक का सेवन करने से शरीर गर्म रहेगा। सब्जियां रोज के खाने में कुल 5-6 तरह की सब्जियां शामिल करें। इससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन और मिनरल्स मिलेंगे। शराब

  • मंगलवार को घर पर करें ये विलक्षण प्रयोग, बना रहेगा जीवन में सुख

    मनचाहे कार्य की सिद्धि के लिए मंगलवार अथवा शनिवार को घर के एकांत में ये विलक्षण प्रयोग किया जा सकता है। घर में एकांत वातावरण की व्यवस्था न हो पाए तो किसी निर्जन स्थान पर बने हनुमान मन्दिर में ये प्रयोग करें। शुद्ध स्थान और शान्त वातावरण एकाग्रता में वृद्धि करता है। हनुमान जी का चित्रपट अथवा श्रीस्वरूप अपने सामने रखें। अब ऊनी अथवा कुशासन पर बैठ जाएं। सर्वप्रथम गूगल की धूप रमाएं, इससे आस-पास जितनी भी नकारात्मक शक्तियां, भूत-प्रेत का प्रकोप होगा वह शांत हो जाएगा। अब बजरंग बाण का पाठ करें। वैसे तो यह पाठ प्रतिदिन एकाग्रचीत होकर करना चाहिए। संभव न हो तो अपने जीवन का नियम बना लें मंगलवार अथवा शनिवार को ये विलक्षण प्रयोग करना ही करना है। कहते हैं जिस भी घर में बजरंग बाण का नियमित पाठ किया जाता है वहां दुर्भाग्य, दरिद्रता और शारीरिक कष्ट प्रवेश नहीं कर पाते। पाठ धारी

  • BSNL ने 99 रुपए और 319 रुपए में पेश किया नया टैरिफ प्लान

    टेलीकॉम मार्केट में यूजर्स को अपनी और अाकर्षित करने के लिए भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) ने दो नए टैरिफ प्लान पेश किए है, जिनकी कीमतें  क्रमश 99 रुपए और 319 रुपए हैं। इन प्लान्स में यूजर्स को अनलिमिटेड वॉयस कॉल मिलेंगे जिनका फायदा लोकल, एसटीडी और रोमिंग में भी लिया जा सकेगा। बीएसएनएल के डायरेक्टर आरके मित्तल ने प्रेस स्टेटमेंट में कहा कि ये अफोर्डेबल प्लान्स हैं, जो यूजर्स की जरूरतों को ध्यान रखते हुए पेश किए गए हैं। ये प्लान्स अनलिमिटेड वॉयस कॉल बैनेफिट के साथ आते हैं और उन यूजर्स को ध्यान रखकर पेश किए गए हैं, जो डाटा प्लान का इस्तेमाल नहीं करते हैं। 99 रुपए का प्लान बीएसएनएल का ये प्लान 26 दिनों की वैलिडिटी के साथ आता है, जिसमें यूजर्स को अनलिमिटेड वॉयस कॉल (लोकल, एसटीडी और रोमिंग) का फायदा मिलेगा। 319 रुपए

  • लिवर से जुड़ी हर परेशानी को इन घरेलू नुस्खो से करें दूर

    लिवर शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है। लिवर शरीर में से विषैले पदार्थों को बाहर निकालना, भोजन पचाने में मदद, रसायनों का उत्‍पादन और डिटॉक्सीफिकेशन जैसे काम करता है। शरीर को बीमारियों से बचाने के लिए 80 फीसद काम लिवर का होता है लेकिन आपकी खानपान की गलत आदतों के कारण लिवर पर बुरा असर पड़ता है, जिससे लिवर में सूजन और उसके खराब होने की समस्या हो जाती है। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप इन लिवर से जुड़ी हर परेशानी को दूर कर सकते है। इन घरेलू नुस्खो का इस्तेमाल लिवर को कुछ ही दिनों में हेल्दी बना सकते हैं। तो आइए जानते है लिवर को होल्दी रखने वाले इन घरेलू नुस्खो के बारे में। लिवर खराब होने के कारण दूषित खाना और पानी मसालेदार और चटपटी चीजें खाना विटामिन बी की कमी एंटीबायोटिक दवा

  • बदलते मौसम में होने वाली बीमारियों से इस तरह बचे

    सर्दी का मौसम अब जाने को है, इसी के साथ वातावरण में भी पूरी तरह से बदलाव आना शुरू हो गया है। जहां दिन में गर्मी तो रात को सर्दी महसुस होती है। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में ज्यादा अंतर होने शरीर खुद को इस अनुसार आसानी से ढाल नहीं पाता। ऐसा बदलता मौसम किसी को भी बीमार कर सकता है। खान-पान या फिर गर्म कपड़े पहनने को लेकर की गई लापरवाही की असर सीधा सेहत पर पड़ता है।  जिसकी वजह से वायरल फीवर,गले में दर्द,खांसी,जुकाम,बदन दर्द आदि जैसी और भी कई परेशानियां आनी शुरू हो जाती है। ऐसे में खुद का ख्याल रखना बहुत जरूरी है, ताकि मौसम की वजह से होने वाली छोटी-मोटी बीमारियों से बचा जा सके।  पीएं भरपूर पानी सर्दी हो या गर्मी शरीर को हाइड्रेट करना बहुत जरूरी है। इसके लिए भरपूर पानी का सेवन जरूर करें। गुनगुने पानी का सेवन पाचन क्रिया को भी

  • खाना बंद करें ये फूड्स, दिल के लिए हैं हानिकारक

    दिन-प्रतिदिन बदल रहे रहन-सहन का असर हमारे शरीर पर काफी पड़ रहा है। आज हर व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त रहता है, जिनमें हृदय यानि हार्ट से जुड़ी समस्या आम देखने को मिलती है। अपनी सेहत को दुरुरूस्त रखने के लिए दिल का सेहतमंद होना बहुत जरूरी है। पहले समय में दिल की बीमारियां केवल बढ़ती उम्र के लोगों में ही देखने को मिलती थी, लेकिन आजकल दिल की समस्या कम उम्र के बच्चों में भी देखने को मिल जाती है। ऐसे में जरूरत है अच्छी डाइट लेने की और ऐसे फूड्स के परहेज करने की जो दिल को नुकसान पहुंचाते है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही फूड्स के बारे में बताने जा रहे है, जिनका सेवन अपनी डाइट में बिल्कुल ही कम कर देना चाहिए क्योंकि यह हमारे हृदय के स्वास्थ्य में रूकावट बन सकते है।  1. पिज्जा पिज्जा में अधिक मात्रा में वसा और कार्बोहाइड्रेट्स होती

  • डाइट में शामिल करें ये चीजें, नहीं होगी कोई परेशानी

    अगर सही डाइट न फॉलो की जाए, तो शरीर में कैलोरी की ज्यादा मात्रा जाने लगती है, जिससे कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम हो सकती हैं। ऐसे में महिलाओं को चाहिए कि न्यूट्रीएंट्स से भरपूर, एनर्जी देने वाली डाइट लें। बहुत सी महिलाएं अपनी डाइट को लेकर कॉन्शस नहीं रहती हैं। सुबह-सुबह, घर-ऑफिस की जिम्मेदारियों की वजह से ठीक से भोजन नहीं करती हैं। लंच, डिनर में भी यही हाल रहता है। ऐसे में उन्हें जब भी भूख महसूस होती है तो कुछ भी हैवी या फास्ट फूड खा लेती हैं। इस वजह से महिलाओं को पर्याप्त पोषण और ऊर्जा नहीं मिलती है। इसके बजाय बहुत ज्यादा कैलोरी का इनटेक हो जाता है। इससे सेहत को नुकसान पहुंचता है। क्या खाएं मौसमी फल, सब्जियों से शरीर को पर्याप्त एनर्जी मिलती है, इसलिए इन्हें अपनी डेली डाइट में जरूर शामिल करें।  अपनी डाइट में फाइबर