लखनऊ

  • मंदिर, मस्जिद समेत अन्य स्थानों पर लगे अवैध लाउडस्पीकरों पर कार्रवाई के आदेश

    लखनऊ उत्तर प्रदेश सरकार ने आज प्रदेश के सभी जिलों के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि मंदिरों, मस्ज्दिों तथा अन्य सार्वजनिक स्थानों पर लगे अवैध लाउडस्पीकरों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की जाये, क्योंकि अवैध लाउडस्पीकर हटाने की आखिरी तारीख 15 जनवरी तक थी. प्रमुख सचिव (गृह) अरविंद कुमार ने बताया कि धार्मिक स्थानों और सार्वजनिक जगहों से लाउडस्पीकर हटाने की आखिरी तारीख कल समाप्त हो गयी. इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश के बाद सात जनवरी को प्रदेश सरकार ने दस पन्नों का लाउडस्पीकर के सर्वेक्षण का प्रोफार्मा जारी किया था. इसमें स्थायी रूप से लाउडस्पीकर लगाने की इजाजत लेने का फार्म और जिन लोगों ने लाउडस्पीकर लगाने की इजाजत नहीं ली है, उनके खिलाफ की गयी कार्रवाई की विस्तृत जानकारी देने को कहा गया था. सरकार ने इस संबंध में प्रशासन से इजाजत लेने के लिए 15 जनवरी आखिरी तिथि निर्

  • अखिलेश यादव ने की छात्रसंघ नेताओं से मुलाकात

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लगातार 2 चुनावों में हार के बाद से समाजवादी पार्टी हैरान है। यही कारण है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अब संगठन को मजबूत करते हुए 2019 के लोकसभा चुनावों की तैयारी करना शुरू कर दिया है। इस बीच अचानक सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कुछ नेताओं को लखनऊ बुलवा लिया है जिसके बाद नयी चर्चा शुरू हो चुकी हैं। अखिलेश यादव सपा पदाधिकारियों से इस समय मुलाकात कर रहे हैं। राजनीति पर बात करते हुए अखिलेश कह चुके हैं कि एमएलसी का कार्यकाल समाप्त हो जाने पर वे 2019 में कन्नौज से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे। साथ ही गठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि राहुल गांधी और हमारी दोस्ती कभी नहीं टूटेगी मगर दोनों दलों के बीच गठबंधन के पहले दोनों पार्टियों को अपने संगठन को मजबूत करना होगा। दोनों दल ज्यादा से ज्यादा अपने सदस्य बनाएं क्योंकि गठबंधन पर तो कभी भी बात हो सकती है। इस ब

  • सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने हेतु 1000 मेगावाट क्षमता के सौर पावर क्रय हेतु बिड आमंत्रित

    लखनऊ। प्रदेश में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देनें के लिये 1000 मेगावाट क्षमता के सौर पावर क्रय हेतु टैरिफ आधारित ई-बिड का आमंत्रण किया गया है। बिडिंग प्रक्रिया का सम्पादन सौर ऊर्जा नीति 2017 के क्रियान्वयन हेतु नामित नोडल ऐजेन्सी यूपीनेडा द्वारा किया जायेगा। विगत 8 जनवरी 2018 को ई-बिड का आमंत्रण किया गया है और बिड खोलने की तिथि 7 फरवरी 2018 है। 1000 मेगावाट क्षमता से उत्पादित सौर पावर का क्रय यू0पी0पी0सी0एल0 द्वारा 25 वर्ष हेतु किया जायेगा। इस 1000 मेगावाट क्षमता की सौर पावर परियोजना की स्थापना से प्रदेश में 5000 करोड़ का निवेष आना सम्भावित है। यह जानकारी देते हुये मंत्री बृजेश पाठक (अतिरिक्त ऊर्जा स्त्रोत) ने बताया है कि प्रदेश सरकार सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिये लगातार ऐतिहासिक कदम उठा रही है। इसी क्रम में प्रदेश की सौर ऊर्जा नीति 2017 लागू की गयी है। इस नीति के अन

  • मुख्यमंत्री ने प्रसिद्ध साहित्यकार दूधनाथ सिंह के निधन पर दुःख व्यक्त किया

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रसिद्ध साहित्यकार दूधनाथ सिंह के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। ज्ञातव्य है कि दूधनाथ सिंह को उत्तर प्रदेश के सर्वोच्च साहित्य सम्मान भारत भारती, मध्य प्रदेश सरकार के मैथिलीशरण गुप्त सम्मान से भी सम्मानित किया गया था। मूलतः जनपद बलिया के रहने वाले दूधनाथ सिंह इलाहाबाद विश्वविद्यालय से सन् 1994 में अवकाश प्राप्त कर लेखन क्षेत्र में सक्रिय रहे। उन्होंने कई कालजयी रचनाएं देकर हिन्दी साहित्य जगत की अतुलनीय शुरुआत की। प्रसिद्ध कथाकार दूधनाथ सिंह का गुरुवार देर रात निधन हो गया। पिछले कई दिनों से वह इलाहाबाद के फीनिक्स अस्पताल में भर्ती थे। कैंसर से पीड़ित दूधनाथ सिंह को बुधवार रात दिल का दौरा पड़ा थ

  • मनोज सिंह चौहान बने ‘क्षत्रिय समाज हमारा स्वाभिमान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष

    लखनऊ। अलीगंज में क्षत्रिय समाज की बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में क्षत्रिय समाज की एकता को और मजबूत करने व समाज के गरीब परिवारों की मदद, देश रक्षा भ्रष्टाचार व अन्याय के खिलाफ व बहनों की रक्षा के लिए ‘‘क्षत्रिय समाज हमारा स्वाभिमान’’ नामक समाजसेवा संगठन का गठन किया गया। क्षत्रिय समाज की बैठक में आये हुए सदस्यों की सर्वसम्मति से प्रसिद्ध समाज सेवी व पूर्व निर्दलीय सांसद प्रत्याशी लोकसभा लखनऊ मनोज सिंह चौहान को ‘‘क्षत्रिय समाज हमारा स्वाभिमान’’ संगठन का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया। इस अवसर पर समाजसेवी मनोज सिंह चौहान का कहना है कि आज हमारे देश में क्षत्रिय समाज सबसे ज्यादा शोषण का शिकार हुआ है। आज समाज में बेरोजगार युवाओं की संख्या दिनोदिन बढ़ रही है। आाजादी के पहले व आजादी के बाद हम क्षत्रियों ने

  • गांव, गरीब, किसान का बढ़ रहा सम्मान: राकेश त्रिपाठी

    लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने योगी सरकार को गांव, गरीब और किसानों के लिए समर्पित बताया। श्री त्रिपाठी ने कहा कि योगी सरकार की हर कैबिनेट बैठक से गांवों के विकास, गरीबों के विश्वास और किसानों की आश बढ़ाने वाले फैसले होते है। योगी सरकार ने 1650 गांवो को सीएम समग्र ग्राम विकास योजना के तहत चयनित कर उन उपेक्षित गांववासियों के चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी है जो आजादी के बाद से अब तक उपेक्षित थे। वनटांगिया, मुसहर और थारू, जनजाति बाहुल्य वह गांव हैं जहां तक सरकारी योजनाओं की रोशनी अब तक नहीं पहुंची  थी। राकेश त्रिपाठी ने कहा कि हर कैबिनेट बैठक से निकले निर्णय गरीब, ग्रामीण, किसान, जवान और नौजवान के चेहरे पर मुस्कुराहट लाने वाले है। आजादी के बाद से ही उपेक्षित जनजाति बाहुल्य गांव मूलभूत आवश्यकताओं की बाट जोह रहे थे। योगी सरकार की कैब

  • शीतलहर से बचाव के लिए किए गए उपायों का आकस्मिक निरीक्षण किया जाए: मुख्यमंत्री

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि शीतलहर से बचाव के लिए किए गए उपायों का आकस्मिक निरीक्षण किया जाए। उन्होंने कहा है कि शीतलहर से बचाव की व्यवस्था में किसी भी प्रकार की लापरवाही व भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जनपदों को अलाव की व्यवस्था करने, कम्बल वितरित करने एवं रैन बसेरा द शेल्टर होमके संचालन के लिए उनकी मांग को दृष्टिगत रखते हुए धनराशि उपलब्ध कराने का निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि आवश्यकतानुसार तत्काल व्यवस्था करायी जाए।  यह जानकारी देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री प्रदेश में अब तक अलाव एवं कम्बल व्यवस्था हेतु दी गई धनराशि एवं इसके सापेक्ष की गई व्यवस्था के सम्बन्ध में उच्च स्तरीय समीक्षा कर रहे थे। प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि अब तक अलाव एवं कम्बल व्यवस्था ह

  • विज्ञान को अपनाकर विकास को प्राप्त किया जा सकता: मुख्यमंत्री

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विज्ञान को अपनाकर विकास को प्राप्त किया जा सकता है। विज्ञान तभी मानव कल्याण कर सकता है जब वह भौगोलिक परिस्थितियों के अनुरूप हो। इसके लिए आवश्यक है कि हमारे वैज्ञानिक वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए अपने अनुसंधान कार्य करें। वर्तमान में जैव प्रौद्योगिकी तेजी से उभरती और व्यापक प्रभाव वाली तकनीक है। यह तकनीक नये और उपयोगी उत्पादों के माध्यम से राष्ट्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के साथ ही हानिकारक हाइड्रोकार्बन को कम करके यह प्रदूषण नियंत्रण में भी बड़ी भूमिका निभा सकती है। मुख्यमंत्री आज यहां बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय के 22वें स्थापना दिवस पर आयोजित प्रथम नाॅर्थ इण्डियन साइंस कांग्रेस-2018 के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बाबा साहब डाॅ0 भीमराव आम्बेडकर ने