अलीगढ़

  • सर सय्यद अहमद खान की द्विजन्मशताब्दी कार्यक्रम का आयोजन

    अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में परीक्षा नियंत्रक कार्यालय के तत्वाधान में सर सय्यद अहमद खान की द्विजन्मशताब्दी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि प्रोफेसर एमेरेटस प्रोफेसर फरहतुल्लाह खान ने अमुवि के संस्थापक सर सय्यद अहमद खान के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि अब हम लोगो की जिम्मेदारी है कि विश्वविद्यालय को जीवंत रखे। उन्होंने सर सय्यद अहमद खान के धर्मनिरपेक्ष पहलु को उजागर करते हुए कहा कि वे हर हिन्दुस्तानी को शिक्षा देना चाहते थे. यही वजह हैं की उस जमाने में अधिकतर छात्र और उनके मदद करने वालो में दुसरे धर्म के भी लोग थे. आज देश को जरुरत हैं कि हम लोग सर सय्यद अहमद खान के मिशन को आगे बढ़ाये और संकीर्ण मानसिकता से ऊपर उठे। परीक्षा नियंत्रक प्रोफेसर युसूफउज जमान खान ने अपने स्वागतीय भाषण में सर सय्यद अहमद खान को याद करते हुए बताया कि आज

  • मासिक पत्रिका ‘‘तहजीबुल अखलाक’’ के विशेषांक का विमोचन

    अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जूलोजी विभाग में जेनेटिक्स सेक्शन से सम्बन्धित एसोसिएट प्रोफेसर डाॅ. रियाज अहमद को इण्डियन कौन्सिल आॅफ मेडीकल रिसर्च (आईसीएमआर) द्वारा वर्ष 2015 के विज्ञान जगत के प्रतिष्ठित एवार्ड शकुन्तला अमीरचन्द पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।‘‘लीवर फाइब्रोसिस एण्ड द डिस्कवरी आॅफ नाविल डायग्नोस्टिक बायोमार्कस’’ के लिये उन्हें नेशनल एकाडमी आॅफ मेडीकल साइंसेज नई दिल्ली में केन्द्रीय स्वास्थय एवं परिवार कल्याण की राज्यमंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल, डाॅ. नीति आयोग नई दिल्ली के सदस्य डाॅ. वीके पाल, डीजीआईसीएमआर डाॅ. सोमय्या स्वामीनाथन, डीबीटी के सचिव प्रो. विजय राघवन तथा आयुष मंत्रालय के विशेष सचिव वेदिया राजेश कोटीचा द्वारा प्रतीक चिन्ह तथा दस हजार रूपये नकद धनराशि प्रदान की गयी। डाॅ. रियाज अहमद बायोमैडीकल रिसर्च

  • गांधी जयन्ती के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

    अलीगढ़। गांधी जयन्ती के अवसर पर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के ए0एम0यू0 गल्र्स स्कूल, सिटी स्कूल तथा एसटीएस सकूल में, विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। गल्र्स स्कूल की प्रधानाचार्या श्रीमती आमना मलिक ने छात्राओं से गांधी जी के जीवन से प्रेरणा लेते हुए उनके द्वारा बताये मार्ग पर चलने का आव्हान किया। कार्यक्रम में कुरान का पाठ युसरा कक्षा दस, हिन्दी भाषण एकता वाष्र्णेय कक्षा सात, उर्दू भाषण जुबिया कक्षा सात, बाईबिल का पाठ शबनम खान कक्षा छः, गीता का पाठ रिषिका आर्य कक्षा चार, गुरू ग्रन्थ साहिब का पाठ आरती शर्मा कक्षा छः, अंग्रेजी भाषण बुशरा रहमान कक्षा छः तथा देश भक्ति के गीत सबा एवं साथियों द्वारा कक्षा दस की छात्रा ने प्रस्तुत किये। धन्यवाद ज्ञापन वानिया अली, अध्यक्षा सोशल साइन्स सोसायटी कक्षा दस द्वारा प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम में श्रीमती अलका अग्रवाल,

  • गांधी जयंती पर स्वच्छता की शपथ भी दिलाई

    अलीगढ़। गत वर्षों की भांति इस वर्ष भी गांधी जयंती समारोह आज अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में श्रद्धा व उल्लास के साथ मनाया गया। कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने मौलाना आजाद लाइब्रेरी के केन्द्रीय हाल में गांधी प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। इस प्रदर्शनी में महात्मा गांधी से संबंधित पुस्तकों व उन पत्रों को भी प्रदर्शित किया गया है जो उन्होंने एएमयू के छात्रों को लिखे थे। इस अवसर पर मौलाना आजाद लाइब्रेरी के कल्चरल हाल में आयोजित समारोह में कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने शिक्षकों, छात्रों एवं गैर शिक्षक कर्मियों का राष्ट्रीय एकता तथा समर्पित भाव से कार्य करने स्वच्छता की शपथ भी दिलाई। समारोह को संबोधित करते हुए कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने कहा कि महात्मा गांधी का व्यक्तित्व इतनी बड़ा है कि विश्व की महान हस्तियाॅ और अनेक देशों के राष्ट्राध्यक्ष न केवल उन्हें अपना रोल माॅडल

  • महिलाओं के लिए कानूनी सहयोग विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला

    अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय महिला अध्ययन केन्द्र के अंतर्गत लखनऊ के संगठन हमसफर के सहयोग से लैंगिंग जागरूकता तथा महिलाओं के लिए कानूनी सहयोग विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें अमुवि के गल्र्स स्कूल, गल्र्स सीनियर सेकेंड्री स्कूल, ब्वायज सीनियर सेकेंड्री स्कूल तथा टीकाराम इंटर कालिज के 45 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। सुश्री रिचा रस्तोगी तथा सुश्री ममता शर्मा ने रिसोर्स पर्सन के रूप में अपनी सेवायें दीं। महिला अध्ययन केन्द्र की निदेशिका प्रोफेसर अज़रा मूसवी ने मेहमानों का स्वागत किया जब कि कार्यशाला समन्वयक डा0 हुमा हसन ने उनका आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। तथा कार्यक्रम के अंत में उन्हें सहभागिता प्रमाण-पत्र वितरित किये गये।  

  • बुखारी नए प्रोवोस्ट नियुक्ति

    अलीगढ़। प्रोफेसर मुहम्मद उबैदउल्लाह बुखारी अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के सर सैयद हाल (नार्थ) के नए प्रोवोस्ट नियुक्ति किये गये हैं। उनकी नियुक्ति निर्वतमान प्रोवोस्ट श्री अजहर जमील द्वारा प्रवोस्ट पद से त्याग पत्र दिये जाने के कारण तत्काल प्रभाव से दो वर्ष के लिए की गई है। प्रोफेसर बुखारी कम्पयूटर साइंस विभाग में वरिष्ठ शिक्षक हैं।  

  • प्रोफेसर सी0पी0एस0 चौहान को तीन वर्ष के लिए चेयरमैन नियुक्त किया

    अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के शिक्षा विभाग के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर सी0पी0एस0  चौहान को बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के इंटर यूनिवर्सिटी सेंटर फाॅर टीचर एजूकेशन (आई0यू0सी0टी0ई0) के शासकीय निकाय (गर्वनिंग बाडी) का तीन वर्ष के लिए चैयरमैन नियुक्त किया है। यह संस्था यू0जी0सी0 की एक स्वायत्त संस्था है जो शिक्षकों के ज्ञान आधार को मजबूत बनाने के लिए कार्य करती है। प्रोफेसर चैहान ने बताया कि वह अपने तीन वर्षीय कार्यकाल के दौरान इस राष्ट्रीय ख्याति की संस्था के उद्देश्यों को पूर्ण करने के लिए अपना सक्रिय योगदान देंगे। उन्होंने ए0एम0यू0 के कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देते हुए कहा है कि उनकी यह उपलब्धि ए0एम0यू0 की उपलब्धियों में ही शामिल है। प्रोफेसर चैहान लोकल प्रोग्राम प्लानिंग एण्ड मैंनेजमेंट कमैटी (एल0सी0सी0एम

  • बीएचयू घटना के विरोध में एएमयू छात्राओं का प्रदर्शन

    अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) की छात्राओं ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में हुई घटना के विरोध में प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारी छात्राएं काशी हिन्दू विश्वविद्यालय की छात्राओं के साथ हुई कथित पुलिस ज्यादती के विरोध में कल सड़कों पर उतरी और नारेबाजी की. प्रदर्शनकारी छात्राओं के एक प्रतिनिधि ने बताया कि हमने राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर इस प्रकरण में हस्तक्षेप का आग्रह किया है. उन्होंने कहा कि एएमयू की छात्राएं इस समय सदमे से गुजर रहीं बीएचयू की अपनी बहनों को कभी अकेला नहीं छोड़ेंगी. ज्ञापन में कहा गया कि बीएचयू के शीर्ष अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के बजाय राज्य प्रशासन मामले को रफा दफा करने में लगा है. प्रदर्शनकारियों ने ज्ञापन जिला प्रशासन के एक अधिकारी को सौंपा ताकि वह इसे राष्ट्रपति को भेज सकें।