अलीगढ़

  • केन्द्र सरकार अल्पसंख्यको के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए कटिबद्ध हैः सैयद गै़रूल हसन रिजवी

    अलीगढ़। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग (भारत सरकार) के अध्यक्ष सैयद गै़रूल हसन रिजवी से फोरम फाॅर मुस्लिम स्टैडीज एण्ड एनालिसिस (एफ॰एम॰एस॰ए॰) के निर्देशक डाॅ॰ जसीम मोहम्मद ने आयोग के कार्यालय में भेंट की तथा देश के अल्पसंख्यकों की समस्यायों पर चर्चा करते हुए राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग द्वारा किए किए जा रहे सकारात्मक कार्यों की भूरि भूरि प्रशंसा की तथा माँग की देश के शिक्षण संस्थानों विशेष रूप से विश्वविद्यालय मे अल्पसंख्यक के लिए जारी योजनाओं को प्रभावी रूप से प्रचरित किया जाए। इस सम्बन्ध में मुस्लिम फोरम के निर्देशक डाॅ॰ जसीम मोहम्मद ने बताया कि उन्होंने राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सैयद गै़रूल हसन रिजवी से नई दिल्ली में भेंट की तथा उनके द्वारा प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जारी विकास आधारित योजनाओं जैसे कौशल विकास योजना, जनधन योजना आादि का अल्पसंख्यकों

  • पाॅलीटेक्निक में स्वच्छता अभियान चलाया गया

    अलीगढ़। अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय में चल रहे स्वच्छता पखवाड़े के तहत यूनीवर्सिटी पाॅलीटेक्निक में स्वच्छता अभियान चलाया गया। जिसमें स्मार्ट क्लास रूम सहित पाॅलीटेक्निक परिसर में विभिन्न स्थानों पर सफाई की गई। जिसमें शिक्षकों व छात्रों ने भाग लिया। इस अवसर पर सार्वजनिक स्थानों पर कूड़ेे कचरे की सफाई व्यवस्था विषय पर एक व्याख्यान का भी आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में नगर आयुक्त संतोष कुमार शर्मा ने शिरकत की। व्याख्यान को संबोधित करते हुए पाॅलीटेक्निक के सिविल इंजीनियरिंग सेक्शन में एसोसिएट प्रोफेसर डाॅ. अरशद हुसैन ने लोगों में स्वास्थय व सफाई के प्रति जागरूकता के महत्व पर प्रकाश डाला और ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए प्रयोग में लायी जा रही आधुनिक तकनीक पर विस्तार से चर्चा की। इस अवसर पर अलीगढ़ नगर निगम के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर डाॅ. रमाका

  • वृक्षा रोपण कार्यक्रम का आयोजन किया

     अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के दर्शन शास्त्र विभाग द्वारा सर सैय्यद अकैडमी के सहयोग से सर सैय्यद को श्रृद्वांजलि स्वरूप सर सैयद हाउस में एक वृक्षा रोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें शिक्षकों और छात्रों द्वारा पौधे लगाए गए। इस कार्यक्रम का उद्देश्य यूनीवर्सिटी परिसर को प्रदूषण मुक्त बनाना था। इस अवसर पर प्रोफेसर लतीफ हुसैन काज़मी, जैद अहमद सिद्दीकी, शाहिद उल हक के अलावा विभाग के अन्य शोध छात्र मौजूद थे।  

  • फरज़ाना अलीम ने राष्ट्रीय सेमीनार में एक तकनीकी सत्र की अध्यक्षता की

    अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के गृह विज्ञान विभाग की प्रोफेसर फरज़ाना अलीम ने हाल ही में कानपुर की सीएस एमजे यूनीवर्सिटी के जुहारी देवी गल्र्स पीजी काॅलेज के गृह विज्ञान विभाग द्वारा आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमीनार में एक तकनीकी सत्र की अध्यक्षता की। ये सेमीनार यूजीसी द्वारा प्रायोजित किया गया था। प्रोफेसर अलीम ने परिवार की मौजूदा संरचनाओं का विशेष ध्यान देते हुए बदलती संरचना, गतिशीलता और समाज के समीप बढ़ती चुनौतियों पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि किस प्रकार सामान्य पैटर्न होने के बावजूद भी हर एक पिरवार प्रणाली और गतिशीलता अनोखी है, प्रोफेसर अलीम ने कहा कि पारिवारिक जीवन को समृद्व बनाकर ही मानव विकास को बढ़ावा दिया जा सकता है। उन्होंने इस बात को रेखांकित किया कि भारत के पारिवारिक विविधताओं के अनुसार सामाजिक आर्थिक और व्यक्तिगत स्थितियों के साथ अनुकूलन ही स्वीकार्य है।